palm, life line, hand-5187387.jpg

भाग्यशाली व्यक्ति की पहचान

ऐसे व्यक्ति भाग्य के बहुत भाग्यशाली होते है। ऐसे व्यक्तियों को अपने जीवन के हर क्षेत्र में सफलता मिलती है …

अगर किसी व्यक्ति की हथेली पर भाग्य रेखा चंद्र माँ के क्षेत्र से प्रारम्भ होती है तो उस व्यक्ति का हर काम सफल होता है. और उसे अपने जीवन में मान-सम्मान भी खूब प्राप्त होता है। वही अगर किसी की हथेली पर भाग्य रेखा जीवन से प्रारम्भ हो, उस व्यक्ति को अपने जीवन में धन से संबंधित परेशानियों का कभी सामना नहीं करना पड़ता।

हस्तरेखा हाथो की लकीरें हमारे जीवन के बारे में बहुत कुछ बताती है, पर कई लोग इस बात पर विश्वास नहीं करते। लेकिन हमारे हाथ में कई ऐसी रेखाएं है जो हमारे जीवन की हमें सटीक जानकारी देती है। हमारे शरीर में हर चीज़ हमें एक संकेत देती है. जैसे अगर हमें कोई चोट लग जाती है तो हमें हमारा दिमाग बताता है कि कहा चोट लगी है और वही पर दर्द हो हो रहा है।

हथेली में निशान और उनका अर्थ

उसी प्रकार हमारे हाथो की लकीरें भी समय समय पर बदल जाती है.और हमें बताती है कि हमारे जीवन में कैसे बदलाव आ रहे है बस ज़रूरत है उन्हें समझने कि। अगर हम उन्हें समझ गए तो जीवन में कामयाब होने से कोई रोक नहीं पाएगा। हस्तशास्त्र में, हाथ के लकीरों कि व्याख्या कि गयी है।

हम हाथो कि हर लकीर को तो नहीं पढ़ सकते क्योंकि इसके लिए हमें हस्तशास्त्र पड़ना पड़ेगा। पर हाथो कि कई लकीरें हमारे जीवन कि सटीक जानकारी देती है।

M रेखा वाले

जिन लोगो के हाथो में M का निशान बनता है वो लोग बहुत ही बुद्धिमान होते है और आत्मविश्वास से भरे होते है। ऐसा इंसान जीवन में खूब तरक्की करता है और हमेशा ख़ुशी का जीवन जीता है। ऐसे इंसान की छः इन्द्रियाँ ( Six Sense ) बहुत तेज़ होती है। इसलिए ऐसे लोगो से कभी झूठ न बोले, नहीं तो आप पकड़े जाएंगे।

X निशान वाले

1 रिसर्च पर 2 million लोगो पर रिसर्च की गई जिसमे ये पाया गया की जिन लोगो के हाथो में X का निशान बनता है वे लोग जीवन में बहुत ही कामयाब और लोकप्रिय होते है। ऐसे लोगो को जीवन में पैसे की कोई कमी नहीं रहती। तो अगर आपके हाथ में भी X बनता है तो आप भी एक दिन ज़रूर कामयाब होंगे। पर मेहनत हर काम के लिए ज़रूरी है।

अरग चाँद वाले निशान

जिन लोगो के हाथो को मिलाने से आधा चाँद बनता है कहा जाता है कि, इसे लोग बहुत ही आकर्षित होते है और ऐसे लोगो की बुद्धि भी तेज़ होती है। ऐसे लोगो को जीवन में हमेशा कामयाबी मिलती है क्योकि ऐसे लोग हर मुश्किल का हल आसानी से ढूँढ लेते है।

people, man, adult-3120717.jpg

हाथो की लकीरें हमें अनुमान देती है की हम जीवन में कामयाब होंगे या नहीं। मगर कामयाबी के लिए हाथो पे इन लकीरो का ही होना ज़रूरी नहीं, जीवन में मेहनत से ही सब कुछ मिलता है। ये लकीरें आपको सिर्फ एक प्रोत्साहन देती है, एक सहारे की तरह काम करती है पर कामयाबी आपको आपकी मेहनत से ही मिलेगी। इसलिए अपनी जीवन की मुश्किलों से लड़ते हुए आगे बड़े कामयाबी आपके कदम चूमेगी।

हस्त रेखा ज्ञान से हम बहुत सी ऐसी चीज जान सकते हैं जो जातक के जीवन में घटित होती है। जैसे किसी भी जातक (व्यक्ति) का विवाह, क्योंकि हिन्दू समाज में स्त्री और पुरुष का संबंध विवाह के बिना मान्य नहीं होता। Hast Rekha के माध्यम से यह पता लगाया जा सकता है कि उनका आगे आने वाला समय किस प्रकार से रहेगा।

आज के समय में बिना विवाह के कोई भी व्यक्ति अकेला जीवन नहीं जीना चाहता है। हस्त रेखा के माध्यम से अपनी विवाह रेखा दिखाएं और जल्द से जल्द अपनी विवाह संबंधित जो भी उसे परेशानी आ रही है अथवा जो भी उससे संबंधित कोई भी अगर कार्य करना है तो वह जल्द से उपाय करें।

सबसे पहले हम यह जान लेते हैं कि विवाह रेखा कौन से हाथ में देखी जाती है? विवाह रेखा कनिष्ठका यानि सबसे छोटी उंगली उसके ऊपर बुध पर्वत होता है और उसी के निचले हिस्से में थोड़ा सा टेडी स्थिति में अर्थात ऑडी स्थिति में यह रेखा पाई जाती है। इस रेखा से हम विवाह के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है। इन रेखाओं में जो सबसे गहरी रेखा होगी वह स्पष्ट विभाग की रेखा होगी। अर्थात उतने उस व्यक्ति के संबंध बन चुके हैं,

इसमें प्रेम संबंध भी आ जाता है इसीलिए कईयों के जीवन काल में यह समस्या रहती है कि प्रेम संबंध तो उनका हो गया लेकिन उनकी शादी नहीं हो पाई तो उसका कारण यह है कि उसकी विवाह रेखा उस समय स्पष्ट नहीं थी।

हिंदू ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसे रहस्य हैं जिनका हमें केवल पढ़ने मात्र से अथवा देखने मात्र से उसका ज्ञान हो जाता है। Hast Rekha ऐसा विषय है ज्योतिष शास्त्र का कि जिसके माध्यम से हम अगर किसी भी जातक की कुंडली नहीं है हस्त रेखा के माध्यम से हम उसका भविष्य बता सकते हैं

और इसमें भी यह सबसे बड़ी बात है कि Hast Rekha कौन सी रेखा का क्या महत्व होता है। यह सबसे बड़ी बात है किस रेखा से जातक को जीवन में प्रभाव मिल रहा है| जैसे कई लोगों की यह समस्या रहती है कि उनकी जॉब नहीं लग रही है आप कर रहे हैं तो टिकती नहीं है मन नहीं लगता जॉब में, बहुत सी ऐसी समस्याएं होती हैं|

अपने काम को सही से नहीं करते हैं इसलिए हाथ में सूर्य रेखा अनामिका उंगली यानी रिंग फिंगर के निचले क्षेत्र में होती है.तो सूर्य प्रत्यक्ष देवता है ज्योतिष शास्त्र में भी इस चीज को मानना है कि सूर्य के द्वारा बहुत सी ऐसी विशेषताएं हमें प्राप्त होती हैं।

सूर्य रेखा अनामिका उंगली यानी रिंग फिंगर के निचले क्षेत्र से शुरू होकर ऊपर की तरफ जाती है सूर्य पर्वत से लेकर मणिबंध तक जाने वाली सूर्य रेखा को असाधारण माना जाता है.कलाकारों नेताओं या बड़े सितारों के हाथों में आसानी से देखी जाती है. लेकिन हाथों में यह रेखा होती ही नहीं है इससे यह भी पता लगता है. कि व्यक्ति किस क्षेत्र में जाएगा और जॉब उसकी किस क्षेत्र में लगेगी।

उसी तरह रेखा या हथेली पर सूर्य रेखा का ना होना अशुभ माना जाता है। जरूरी नहीं की हर इंसान यश प्राप्त करें| जिन जातकों के हाथ में सूर्य रेखा ना हो उन्हें सूर्य देव की उपासना जरूर करना चाहिए, जल चढ़ाना चाहिए., इसके अलावा शिवलिंग पर जल चढ़ाने से भी और पीली वस्तुओं का दान करने से भी उसको लाभ हो सकता है

हम अगर हस्तरेखा के अनुसार पुरुष का हाथ देख रहे हो तो हमें दाएं हाथ देखना चाहिए और उसके अनुसार ही उसका फलादेश करना चाहिए। अगर उस पुरुष का विवाह नहीं हुआ है तो उसके दोनों हथेलियों को हमें देखना होता है

और दोनों के संबंध आगे किस प्रकार से घटित उसका जीवन होने वाला है। अगर वहाँ विवाह के संदर्भ में वह पूछ रहा है क्योंकि दाएं हाथ जो है वह पुरुष का मान्य है और जो बाएं हाथ होता है वह स्त्री का मान्य होता है।

जैसे कुंडली में नवांश जीवनसाथी के बारे में देखा जाता है उसी प्रकार से हस्तरेखा और हम पार्टनर के लिए देख रहे हैं तो हमें बाएं हाथ पुरुष के संदर्भ में हमें देखना चाहिए उसी से हमे इसका ज्ञान होगा कि उसका जो आने वाला पार्टनर है उसके साथ अर्थात जिससे उसका विवाह होने वाला है वह जातक किस प्रकार से है

क्या उसका स्वभाव है बहुत सारी ऐसी बात है हमें पता लग जाती हैं। इस प्रकार से हम जान सकते हैं कि का हमेशा दाएं हाथ देखना चाहिए। दाएं हाथ से ही पुरुष का फलादेश हमें करना चाहिए। Hast Rekha माध्यम से यह बात पुरुष के लिए थी।

किसी लड़की की हाथ की रेखा अगर हम हस्तरेखा के माध्यम से देख रहे है तो हमें हमेशा बाय हाथ की रेखाएं देखनी चाइये। इससे हमे स्त्री के विषय के बारे में ज्ञान होता है कि उसका आने वाला जीवन कैसा व्यतीत होने वाला है, उसका विवाहित जीवन कैसा रहेगा आदि।

वही अगर हम किसी स्त्री की हस्तरेखा देख रहे है व उसका प्रशन है की उसका विवाहित जीवन कैसा होगा या उसका जीवनसाथी कैसा होगा तो उसके लिए हमे उस स्त्री का दाएं हाथ की रेखा को देखना चाहिए, और उसके अनुसार ही हमे उसका फलादेश करना चाहिए की उसके आने वाला भविष्य कैसा होगा या उसका जीवनसाथी होगा या उसका विवाहित जीवन कैसा रहेगा। तो यह बात स्त्री वर्ग के विषय के माध्यम से थी।

हस्त रेखा ज्ञान के माध्यम से मुख्य रेखाएं कौन-कौन सी होती है?
जीवन रेखा
विवाह रेखा
भाग्य रेखा
संतान रेखा
मणिबंध रेखा
हृदय रेखा
मस्तिष्क रेखा
सूर्य रेखा

If you want to show your hand or horoscope, contact us for appointment:
Astrologer Sahu Ji
Contact: 9039636706 | 8656979221
202 Devansh Apartment, Vijay Nagar, Indore

Scroll to Top