composing, monkey, woman-2925179.jpg

Face Reading Astrology ka Matlab Kya Hai

चेहरा अध्ययन

Face Reading Astrology Kya Hai

चेहरे का पूर्णरूप से अध्ययन कर के व्यक्ति के स्वाभाव , व्यक्तिव एवं भाग्य की जानकारी देना ही चेहरा  अध्ययन ज्योतिष है ।

Face Reading Astrology In Hindi

चेहरा अध्ययन ज्योतिष शास्त्र की ही शाखा सामुद्रिक शास्त्र की एक विद्या है जिसके द्वारा व्यक्ति  के स्वाभाव , व्यक्तिव , भाग्य , भूत , वर्तमान एवं भविष्य की जानकारी प्राप्त कर सकते है।  व्यक्ति के जीवन से जुड़ी हुई सभी समस्याओ का हल व्यक्ति के चेहरे की बनावट और रेखाओं में ही छुपा हुआ रहता है।

Vedic Face Reading Astrology Kya Hai?

भारतवर्ष  में सामुद्रिक शास्त्र  वैदिक काल से ही प्रचलित एवं प्रसिद्ध  विद्या है। इसके के माध्यम से व्यक्ति के शरीर की रचना, अंग लक्षण, वर्ण,  तिल आदि के आधार पर भविष्य कथन किया जाता है। सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार शरीर के हर अंग व्यक्ति के स्वभाव , गुण एवं शख्सियत के बारे में कुछ न कुछ जरुर बताते हैं । इसी के अंतर्गत आता है चेहरा अध्ययन जिसके द्वारा भी व्यक्ति से जुड़ी बहुत सारी जानकारिया प्राप्त किया जा सकता है।

Face Reading Kaise Karte Hai

चेहरा अध्ययन करने के लिए चेहरे के प्रत्येक हिस्सों का गहन अध्ययन किया जाता है । माथे की लकीरे, भौंहों का आकार , आँखों के रंग एवं आकार , गालो की बनावट , नाक की बनावट ,  होठों की बनावट एवं रंग , ठोड़ी के बनावट तथा चेहरे की बनावट के आधार पर व्यक्ति के व्यवहार , स्वाभाव एवं भाग्य का विश्लेषण किया जाता है ।

Face Reading Kaise Sikhe

चेहरा अध्ययन सिखने के लिए किसी अनुभवी ज्योतिषी की सहायता ले सकते है। ज्योतिष शास्त्र एक ऐसी विद्या है , इसे सिखने के लिए किसी को गुरु बनाना श्रेष्ठ होता है  ।

Face Reading Jyotish Kaise Bane

चेहरा अध्ययन ज्योतिष बननें के लिए इस विद्या ज्ञान होना अति आवश्यक है ।

Face Reading Astrology Kya Hai

चेहरा अध्ययन ज्योतिष विद्या की वह पद्धति है जिसके माध्यम से व्यक्ति के चेहरे का अध्ययन कर के व्यक्ति के स्वाभाव , व्यक्तिव एवं भाग्य की जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

Face reading Astrology Kaise Sikhe

चेहरा अध्ययन की ज्योतिष विद्या सिखने के लिए आप किसी अनुभवी ज्योतिषी को गुरु बना सकते है ।

Face Reading Astrology Kaha Sikhe

चेहरा अध्यन की विद्या सिखने के लिए आप किसी अनुभवी ज्योतिषी के पास से शिक्षा प्राप्त कर सकते है या फिर आजकल तो ऑनलाइन क्लासेज देकर भी सिखाया जाता है ।

harish rawat kundali

Harish Rawat’s birth chart horoscope

हरीश रावत का जन्‍म 27 अप्रैल 1947 को उत्तराखंड के अलमोड़ा जिले के मोहनारी में…

Read More
Scroll to Top