lal-kitab-upay

लाल किताब के उपाय कर रहे हैं तो सावधान !

कुछ लोगों में अचानक कोई संकट आ जाता है, तो कुछ लोग सालों से संकटों का सामना कर रहे हैं। मान जाते है कि संकटों का कारण पितृदोष, कालसर्प दोष, शनि की साढ़े साती और ग्रह-नक्षत्रों के बुरे प्रभाव होते हैं। इसी परेशानी के कारन वे लोग समस्या का हल इंटरनेट से ज्योतिष साईट में जाकर ढूंढ़ते है और बिना किसी सलाह के उपाय कर लेते है और यही गलती के बाद उनके हालात बद से बदतर होते जाते है।
कुछ लोग मानते हैं कि सभी कुछ अच्छा था लेकिन जब से उपाय किया और हालात ख़राब हो गए, बिना पूछे कोई ज्योतिष उपाय किये तो आप जिंदगी भर परेशान रहेंगे।
हालांकि मैं ज्योतिषाचार्य मनोज साहू Lal kitab astrologer in Indore यह भी मानता हूँ कि सब कर्मों का लेखा जोखा है अर्थात कर्म सुधार लो तो सब कुछ सुधरने लगता है। अब हम आपके कर्म तो सुधार नहीं सकते, लेकिन यहां लाल किताब के अनुसार कुछ सावधानी और उपाय जरूर बता सकते हैं।

यदि आप लाल किताब के उपाय कर रहे हैं तो सावधान !

नमस्कार दोस्तों, आज मैं ज्योतिषाचार्य मनोज साहू जी Lal kitab astrologer in Indore आप लोगो को कुछ लाल किताब के नियम और सावधानी से अवगत करना चाहता हूँ। लाल किताब के प्रचलन के चलते वर्तमान में बहुत से ज्योतिष लोगों को परंपरागत फलित या वैदिक ज्योतिष के उपायों के साथ-साथ लाल किताब के उपाय भी बताने लगे हैं। हालांकि यह कितना उचित है? यह एक बहस का विषय हो सकता है। और मैं किसी भी प्रकार की बहस में नहीं पड़ना चाहता !
दोस्तों, निश्चित ही उस ज्योतिष को लाल किताब के उपाय बताने का अधिकार है, जो लाल किताब के उसूलों को अच्छे से जानता हो और जो सभी तरह के नियमों और सावधानी के बारे में भी लोगों को बताता हो।
लेकिन यदि आप 4 किताब पढ़कर या इंटरनेट, वॉट्सएप या अखबार में छप रहे उपायों को पढ़कर अपने जीवन में आजमा रहे हैं तो सावधान हो जाएं, क्योंकि ये उपाय आपके जीवन पर विपरीत असर भी डाल सकते हैं,
इंटरनेट पर राहु, केतु या शनि के बुरे प्रभाव को शांत करने के लिए लाल किताब के उपाय बताने वाली सैकड़ों वेबसाइट्स मिल जाएंगी, लेकिन यदि आप इनके द्वारा प्रचारित उपायों को अपना रहे हैं तो आप सावधान हो जाओ !
क्योंकि दोस्तों ये उपाय आपके जीवन पर विपरीत असर भी डाल सकते हैं। आज कल कुछ लोग तो व्हाट्सप्प में उपायों की भरमार लगा देते है। सिर्फ मेसेज ही तो फोरवॉर्ड करना होता है उनको। लेकिन इन उपायों को करना शुभ होगा या अशुभ होगा, ये आप लोगो को ही सोचना है। क्या ये उपाय आपकी कुंडली के लिए सही है ? इंटरनेट पर राहु, केतु या शनि के बुरे प्रभाव को शांत करने के लिए लाल किताब के उपाय बताने वाली सैकड़ों वेबसाइट्स मिल जाएंगी,..
दोस्तों लेकिन यदि आप इनके द्वारा प्रचारित उपायों को अपना रहे हैं तो आप सावधान हो जाएं।..

india's best astrologer honored by road minister nitin gadkari ji to manoj sahu indore, madhya pradesh, india
india’s best astrologer honored by roadminister nitin gadkari ji to manoj sahu ji

lal kitab astrologer in indore | lalkitab expert | best lal kitab jyotish

क्यों सावधान हो जाएं?

लेकिन सवाल यह उठता है कि क्यों सावधान हो जाएं ?…
तो आज दोस्तों, आज मैं ज्योतिषाचार्य मनोज साहू जी Lal kitab astrologer in Indore आप लोगो को कुछ लाल किताब के नियम और कुछ उदाहरण दे रहा हु इसे ध्यान से समझियेगा। ये सारी बातें एक ज्योतिष का विद्यार्थी के नाते ही बता रहा हु। क्योकि लाल किताब जितनी बार भी पढ़े , उतनी ही नयी लगती है मुझे।
दरअसल, लाल किताब एक बहुत ही गंभीर और रहस्यमयी ज्योतिष विद्या है। इसके जानकार आपकी कुंडली का अच्छे से विश्लेषण करने के बाद ही सोच-समझकर आपको कोई उपाय बताते हैं, क्योंकि वे जानते हैं कि लाल किताब में उपायों को बताने के पूर्व किस तरह के नियमों का पालन करना होता है। कुंडली का सही विश्लेषण किए बगैर आप कहीं से भी पढ़कर कोई उपाय आजमाते हैं तो इससे आपका अहित भी हो सकता है …
दोस्तों दरअसल, लाल किताब में यदि किसी चीज को नदी में बहाने का कहा गया है तो इसका यह मतलब है कि आपकी कुंडली में कोई ऐसा ग्रह है जिसे चौथे घर में स्थापित करना है। यदि आपने इंटरनेट पर कहीं यह पढ़ा है, या कोई (नया अधूरा ज्योतिष) कहता है कि सूर्य के खराब प्रभाव को शांत करने के लिए बहते पानी में गुड़ बहाएं तो यह जरूरी नहीं है कि वह उपाय आपके लिए सही हो। इस उपाय को पढ़कर जिन्हें नहीं बहाना हो, वह भी बहा दें, तो सोचे क्या होगा?
दोस्तों कुछ लोग सूर्य के लिए हाथों में माणिक्य या तांबा धारण कर लेते हैं। हाथों में धारण करने का अर्थ है कि आपकी कुंडली अनुसार उक्त ग्रह को तीसरे भाव में स्थापित किए जाने की जरूरत है ..अब सोचिए यदि आप गुड़ भी पानी में बहा रहे हैं और माणिक्य भी धारण किए हुए हैं तो क्या होगा?
इसीलिए जरूरी है कि आप लाल किताब के विशेषज्ञ Lal kitab astrologer in Indore को अपनी कुंडली दिखाकर ही कोई नग धारण करें… यदि सूर्य के उपाय पढ़कर धारण किया है तो इसका अच्छा असर हो, यह जरूरी नहीं। यही बात अन्य ग्रहों के उपाय पर भी लागू होती है… माना जाता है कि सामान्य उपाय करने में किसी भी तरह की क्या परेशानी हो सकती है तो इसके लिए कहना होगा कि एक छोटी-सी सामान्य गोली भी आप पर अच्छा या बुरा असर डाल सकती है…

Best astrologer sahu ji (lal kitab specialist) tell us that without showing horoscope to related subject, shouldn’t do any remedies of lal kitab, do as the lal kitab expert says.

लाल किताब ज्योतिषाचार्य

दोस्तों लाल किताब में कुछ लोगों को उनकी कुंडली के अनुसार यह भी सलाह दी जाती है कि यदि आपके घर में पूजाघर है तो इससे आपको नुकसान होगा। ऐसे में यह सामान्य उपाय भी सोच-समझकर किए जाने की जरूरत है। क्योंकि लाल किताब केे अच्छे ज्ञाता और विशेषज्ञ सामुद्रिक शास्त्र, हस्तरेखा विज्ञान और वास्तु शास्त्र के भी अच्छे जानकार होते हैं।…
दोस्तों, इसलिए मैं ज्योतिषाचार्य मनोज साहू जी, Lal kitab astrologer in Indore आप से मेरी गुजारिश है की अपनी कुंडली दिखाकर (लाल किताब विशेषज्ञ) ही कोई भी उपाय करे। कुछ गलती हुई हो लेख में तो क्षमा करे। धन्यवाद् आप सभी का !

lal kitab astrologer in indore | lalkitab expert | best lal kitab jyotish

अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिये:
by:
ज्योतिषाचार्य मनोज साहू जी
(लाल किताब विशेषज्ञ)
Mob: 9039 636 706 – 8656 979 221.
Indore (mp) https://indorejyotish.in/

www.indorejyotish.in

ganesha, indian, hinduism-2415612.jpg

Vastu for Puja Room

Importance of Pooja room is extremely documented in Indian traditional system. it’s the centre of spirituality where we search for peace. In…

Read More
Scroll to Top